Author Topic: News from different states about Education/ teachers  (Read 8990 times)

Gaurav Rathore

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 5524
  • Gender: Male
  • Australian Munda
    • View Profile
News from different states about Education/ teachers
« on: April 09, 2013, 09:51:49 PM »
बच्चों की संख्या बढ़ाना स्कूलों की जिम्मेदारी
हिमाचल प्रदेश
कार्यालय संवाददाता, धर्मशाला : साल दर साल सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों की घटती संख्या पर शिक्षा विभाग सख्त हो गया है। इसे रोकने के लिए विभाग अब कड़े कदम उठाने जा रहा है। इससे स्कूलों में फिर से पुरानी रौनक को लाया जा सके और विद्यार्थियों की तादाद को बढ़ाया जा सके। इसके लिए विभाग ने स्कूल प्रबंधन को एनरोलमेंट बढ़ाने का आदेश जारी किया है।
शिक्षा विभाग इस संबंध में विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसमें वर्ष 2020 तक विद्यार्थियों की संख्या में 35 फीसद इजाफा करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए स्कूलों को एक एक्शन रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश दिया है। स्कूल प्रबंधन को एनरोलमेंट बढ़ोतरी के लिए उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी देनी होगी। स्कूलों को इस रिपोर्ट को मई के दूसरे सप्ताह तक विभाग को सौंपना होगा। इसी के माध्यम से स्कूलों को अपने लक्ष्य को पूरा करना होगा। इस कार्य में स्कूल प्रबंधन व शिक्षकों की भूमिका को तय किया गया है। सरकार की ओर से ढेरों योजनाओं के बावजूद अपेक्षित परिणाम हासिल नहीं हो पा रहे हैं। अब स्कूलों को इसके साथ जोड़कर विभाग अधिक से अधिक विद्यार्थियों को सरकारी विद्यालयों में लाने की तैयारी में है।
गंभीर हों स्कूल प्रबंधक : बुराथोकी
निदेशक दिनकर बुराथोकी का कहना है कि उच्च शिक्षा विभाग ने नौवीं, दसवीं, जमा एक व दो कक्षाओं की एनरोलमेंट को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है। स्कूलों में घटती संख्या चिंता का विषय है। इसलिए प्रदेश के सभी स्कूलों को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। स्कूल प्रबंधन इसे गंभीरता से लें और उचित कार्रवाई अमल में लाएं।
« Last Edit: May 23, 2015, 12:58:58 PM by khiji NABHA »

Gaurav Rathore

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 5524
  • Gender: Male
  • Australian Munda
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #1 on: April 09, 2013, 09:52:25 PM »
शिक्षा विभाग में बैठकों का दौर
झारखंड
शिक्षा विभाग में बैठकों का दौर
गिरिडीह : शिक्षा महकमा में मंगलवार को बैठकों का दौर चला। प्रभारी डीईओ और जिला शिक्षा अधीक्षक ने प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारियों एवं प्रधानाध्यापकों के साथ अलग-अलग बैठक कर उन्हें कई निर्देश दिए। खासकर विद्यालयों का नियमित निरीक्षण, बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने एवं शिक्षण व्यवस्था दुरुस्त करने पर पदाधिकारियों का अधिक जोर रहा।
नेताजी मध्य विद्यालय में प्रभारी जिला शिक्षा पदाधिकारी मोहन चांद मुकीम ने प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि अभी विद्यालयों का संचालन सुबह कालीन सत्र में हो रहा है। बीईईओ सप्ताह में एक बार सुबह 6:25 बजे पहुंचें और वहां 15-20 मिनट तक रुककर यह देखें कि विद्यालय कितना बजे खुलता है। इसके बाद वस्तुस्थिति से तत्काल अवगत कराएं।
उन्होंने सांख्यिकी और वार्षिक चुनिंदा रिपोर्ट दस दिन के अंदर जमा करने एवं 8वां अखिल भारतीय सर्वे संबंधी रिपोर्ट में कुछ विद्यालयों की पायी गयी त्रुटियों को दूर कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि विद्यालयों के निरीक्षण के क्रम में दंडात्मक कार्रवाई करने के बजाय सुधारात्मक कार्रवाई करें। संकुल साधनसेवियों को निर्देश दें कि वे विद्यालयों के भ्रमण के दौरान संबंधित विषयों की क्लास लें।
उत्क्रमित उच्च विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों की बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी ने राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत उपलब्ध करायी गयी राशि के खर्च और उपयोगिता प्रमाणपत्र जमा करने का निर्देश दिया। कहा कि इस विद्यालय प्रबंधन समिति की बैठक कर इस राशि को अविलंब खर्च करें। मॉडल स्कूलों के सभी शिक्षकों की बैंक खाता संख्या जमा करने का निर्देश दिया, ताकि उनके खाते में वेतन मद की राशि भेजी जा सके। प्रधानाध्यापकों को विद्यालयों का संचालन ठीक से करने और हो रहे भवन निर्माण सहित अन्य कार्यो को अपनी देखरेख में कराने का निर्देश दिया। एक अन्य बैठक में डीईओ ने अल्पसंख्यक एवं संस्कृत उच्च विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों से कई जानकारी ली।
जिला शिक्षा अधीक्षक ने परियोजना कार्यालय में बीईईओ के साथ बैठक की। उन्होंने मध्याह्न भोजन, पोशाक-पुस्तक वितरण, अग्रिम समायोजन आदि की समीक्षा की। साथ ही शिक्षाधिकारियों ने इससे संबंधित प्रतिवेदन भी जमा किया। बैठक में विभिन्न प्रखंडों के बीईईओ उपस्थित थे।

Gaurav Rathore

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 5524
  • Gender: Male
  • Australian Munda
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #2 on: April 09, 2013, 09:53:08 PM »
मिनिस्टरियल स्टाफ (शिक्षा) ने बनाई संघर्ष की रूपरेखा
जागरण १२ मिनट पहले
ईमेल करें
Punjab
संवाद सहयोगी, अमृतसर : मिनिस्टरियल स्टाफ यूनियन (शिक्षा विभाग) ने मंगलवार को पंजाब सरकार के खिलाफ संघर्ष की रूपरेखा तैयार कर ली है। मंगलवार को एक बैठक प्रधान सरताजबीर सिंह गोराया की अध्यक्षता में जिला शिक्षा विभाग सेकेंडरी में यूनियन के पदाधिकारियों की हुई।
सरताजबीर सिंह ने बताया कि राज्य कार्यकारिणी द्वारा सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने का फैसला संगरूर में लिया गया, उसको तुरंत लागू किया जाएगा। सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी कर ली गई है। इसके तहत 10, 11 व 12 अप्रैल को काले बिल्ले लगा कर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। 11 अप्रैल को जिला स्तर पर धरना व 17 अप्रैल को सामूहिक अवकाश लेकर समूह कार्यालय कर्मी डीपीआइ सेकेंडरी कार्यालय के बाहर धरना देंगे।
सरताजबीर ने कहा कि मिनिस्टरियल स्टाफ की मांगों को सरकार स्वीकार नहीं कर रही है। मांगों को मनवाने को लेकर ही धरने की श्रृंखला शुरू की जा रही है।
इस अवसर पर बैठक में दिलबाग सिंह, गुरविंदर सिंह, अमन अब्दाल, जिम्मी, सुरेंद्र सिंह, मैडम प्रभा, सतपाल, कमल कांत, जगतार सिंह, सुनीत, अश्विनी कुमार, प्रभजोत सिंह, बाली, गुरपाल सिंह, जगबीर कौर, खुशविंदर पन्नू, अरविंदर सिंह, सुखदेव सिंह, समिंदर सिंह, सरिता, मंजीत कौर, सर्बजोत कौर, जसविंदर कौर आदि मौजूद थे।

Gaurav Rathore

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 5524
  • Gender: Male
  • Australian Munda
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #3 on: April 09, 2013, 09:54:45 PM »
5.50 लाख राज्य कर्मचारियों ने मांगी छुट्टी
जागरण सोम., ८ अप्रैल २०१३
ईमेल
M.P.
भोपाल। कर्मचारी संगठनों के संयुक्त मोर्चा द्वारा नौ अप्रैल को प्रस्तावित हड़ताल को लेकर अब तक साढ़े पांच लाख अधिकारी व कर्मचारी अपने विभागों में सामूहिक अवकाश के लिए आवेदन दे चुके हैं। यह दावा करते हुए मोर्चा के पदाधिकारियों ने कहा कि शासन के अधिकारियों से चर्चा तो की जाएगी, लेकिन समझौता किसी कीमत पर नहीं करेंगे।
हड़ताल को लेकर मोर्चा द्वारा राजधानी के अलग-अलग दफ्तरों में किए जा रहे प्रदर्शनों का सिलसिला जारी है। कर्मचारी नेता अजय श्रीवास्तव नीलू, चंद्रशेखर परसाई, वीरेंद्र खोंगल, आदर्श शर्मा, अरुण द्विवेदी, रमेशचंद्र शर्मा, एमपी द्विवेदी, रमेश राठौर समेत कई कर्मचारी नेताओं ने संबोधित किया। वक्ताओं ने दावा किया कि 56 विभागों समेत निगम मंडलों के आठ लाख में से साढ़े पांच लाख अधिकारी व कर्मचारी सामूहिक अवकाश के लिए आवेदन दे चुके हैं।

Raman

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 73584
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #4 on: February 11, 2015, 02:59:46 PM »
« Last Edit: April 15, 2015, 03:15:28 PM by khiji NABHA »

Raman

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 73584
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #5 on: February 11, 2015, 03:01:49 PM »

Raman

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 73584
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #6 on: February 11, 2015, 03:02:19 PM »

Raman

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 73584
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #7 on: February 11, 2015, 03:03:32 PM »

Komal Chautala

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 3121
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #8 on: February 12, 2015, 07:17:49 AM »
Naidu matches KCR, hikes staff salary by 43%
TNN | Feb 10, 2015, 12.25AM IST

The hike would cost the exchequer close to Rs 7,000 crore annually.
HYDERABAD: Under pressure from his Telangana counterpart to match the salary hike for government staff, Andhra Pradesh chief minister N Chandrababu Naidu on Monday announced a 43% salary increase for all categories of employees. The Pay Revision Commission (PRC) had recommended a hike of 29%, but both AP and Telangana chose to peg the increase at 43%.

The hike will come into retrospective effect from June 2, 2014. The arrears will be credited in the general provident fund account of the staff and the revised salary paid from February onwards. More than six lakh employees and pensioners stand to benefit from the salary hike. "Though the state is going through a financial crisis, we have taken this decision keeping in mind the welfare of the employees. Now, I expect them to deliver the results in the form of better governance and better revenue collections," Chandrababu Naidu told the media while announcing the salary hike.

The hike would cost the exchequer close to Rs 7,000 crore annually. At present, excluding the hike, the state generates annual revenue of Rs 47,000 crore but has a burden of Rs 53,000 crore in the form of salaries, pensions and interests on loans.


With this increase, the salaries of AP government employees have more than doubled in the last five years. The 63 per cent hike in dearness allowance effected during the last few months and the current 43 per cent hike will result in a 106 per cent hike in the salaries of all employees working in the state government. It would be near impossible for central government employees to get their salaries doubled even in 10 years whereas the AP and Telangana employees have achieved this rare feat in just five years.

"There is no need for the state's youth to hanker after jobs in MNCs like Google, IBM and Microsoft. Thanks to the generous pay hike and raising the retirement age to 60, working in the AP government is a far better proposition," said APNGOs president P Ashok Babu.

In fact, just last week, the employees had agreed to a 37 per cent salary increase. "However, the announcement of 43 per cent hike by the TRS government changed everything," sources said. "In view of the hike in Telangana, Naidu had no choice but to follow suit. Now, it is clear that the bifurcation of united AP has benefitted the state government employees the most," remarked a senior official in the AP government.

Raman

  • Super Senior Member
  • *****
  • Offline
  • Posts: 73584
  • Gender: Female
    • View Profile
Re: News from different states about Education/ teachers
« Reply #9 on: February 12, 2015, 11:54:41 AM »

 

GoogleTagged



Sad news , शिमला नेचर कैंप के टैंट पर पेड़ गिरा, जालं

Started by Gaurav Rathore

Replies: 4
Views: 1902
Last post June 10, 2016, 02:06:05 PM
by Baljit NABHA
Good news, REGARDING FAMILY PENSION IN NPS Family Pension for NPS Employees

Started by Gaurav Rathore

Replies: 3
Views: 8094
Last post November 28, 2015, 12:59:46 PM
by sukhbir
News related to Property Details of "A" and "B" Class Employees

Started by rupinderjit

Replies: 3
Views: 5349
Last post December 05, 2015, 07:01:31 PM
by Hannibal
NEWS ABOUT TEACHING FELLOW JOINING AFTER COMBINED MERIT COUR DECISON

Started by Naresh4Sachar

Replies: 31
Views: 11946
Last post September 28, 2015, 10:23:41 AM
by punjabi mistress
News related to Teaching Fellows, 9998 posts, Ads 2007

Started by RAJ

Replies: 214
Views: 63555
Last post February 17, 2017, 10:54:25 AM
by jackwarner