Author Topic: CHALO SCHOOL CHALE HUM  (Read 27418 times)

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #20 on: June 10, 2014, 08:11:41 AM »

ग्युइझु प्रांत, चीन
 
ग्युइझु प्रांत में गेंगुआन गांव में बच्चों को तस्वीर में दिख रहे इस खतरनाक रास्ते से स्कूल जाना पड़ता है। यहां से सबसे करीब बान्पो प्राथमिक स्कूल ऊपर पहाड़ियों पर बना है। स्कूल जाने के लिए पहाड़ी के किनारे पर मुश्किल से 50 सेंटीमीटर का पैदल रास्ता है, जिस एक-एक छात्र बारी बारी से निकल सकता है। क्योंकि दूसरी ओर हजारों फीट गहरी खाई है। ये रास्ता आज से 40 साल पहले बना था। हालांकि, इसके अलावा एक सुरक्षित रास्ता भी है, लेकिन उससे जाने में कम से कम दो घंटे से ज्यादा का समय लगता है। इसलिए बच्चे मां-बाप की अनुमति से स्कूल के एक टीचर के साथ इस रास्ते से स्कूल जाते हैं।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #21 on: June 10, 2014, 08:12:41 AM »


सुमात्रा, इंडोनेशिया
 
सुमात्रा के बाटु बुसुक गांव में रहने वाले बच्चों को नदी को पार कर स्कूल जाना पड़ता है। जंगल में बसे इस गांव के बच्चे रस्सियों के सहारे नदी को पार करते हैं फिर सात मील पैदल चलकर पडंग कस्बे में मौजूद अपने स्कूल पहुंचते हैं। दो साल पहले भारी बारिश के चलते नदी पर बना झूला पुल टूट गया था, तब से बच्चे इसी तरह स्कूल जा रहे हैं।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #22 on: June 10, 2014, 08:14:05 AM »


रीजल प्रांत, फिलीपीनो

फिलीपीनो के रीजल प्रांत में प्राथमिक स्कूल के बच्चे टायर ट्यूब और बांसों से बनी नावों के सहारे नदी पार तक स्कूल पहुंचते हैं। इसके अलावा उन्हें एक घंटे पैदल भी चलना पड़ता है। कई बार भारी बारिश के चलते वो स्कूल भी नहीं जा पाते। स्थानीय लोग काफी समय से सरकार से अपने इलाके के लिए एक झूला पुल की मांग कर रहे हैं ताकि उनके लिए आना-जाना छोड़ा आसान हो जाए।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #23 on: June 10, 2014, 08:15:43 AM »


ट्रांग हाओ, वियतनाम

फिलीपिनो में तो बच्चों को कम से कम नदी पार करने के लिए टायर ट्यूब नसीब है। वियतनाम के ट्रांग हाओ में तो बच्चों को स्कूल तक पहुंचने के लिए तैरकर नदी पार करनी पड़ती है। ग्रेड 1 से लेकर ग्रेड 5 तक के बच्चों को दिन में कम से कम दो बार नदी पार करनी होती है। वो पन्नी में अपने कपड़े बांधकर नदी पारकर स्कूल पहुंचते हैं और फिर इसी तरह घर लौटते हैं। नदी करीब 15 मीटर चौड़ी है और 20 मीटर गहरी।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #24 on: June 10, 2014, 08:24:12 AM »


नेपाल
 
ये तस्वीर पहाड़ों वाले देश नेपाल की है, जहां आमतौर पर दूर दराज इलाकों में सड़क और पुल ना होने के चलते रस्सी पर बनी सवारी का इस्तेमाल नदी पार करने के लिए करते हैं। इसमें सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं होते। पिछले कई दशकों से सुरक्षा के साथ हो रहे ऐसे खिलवाड़ के चलते बड़ी संख्या में लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि, इसका असर ये हुआ है कि कई एनजीओ इसे लेकर चिंतित हैं और सुरक्षित ब्रिज और पुल के निर्माण पर ध्यान दे रहे हैं।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #25 on: June 10, 2014, 08:27:37 AM »


बोगोटा, कोलंबिया
 
राजधानी बोगोटा से 40 मील की दूरी पर बारिश वाले जंगलों में रह रहे परिवारों के बच्चों के लिए स्कूल पहुंचना बहुत टेढ़ी खीर है। ये स्टील केबिल के जरिए घाटी के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में कुछ इस तरह (तस्वीर में) पहुंचते हैं। स्टील के केबल की करीब 800 मीटर दूरी में लगी है।

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #26 on: June 10, 2014, 08:57:10 AM »

In yet another Indonesian village, children cycle their way over an aqueduct that separates Suro Village and Plempungan Village in Java, Indonesia. The children decided to use the aqueduct on their journey to school as a shortcut, even though it wasn’t made for people to walk on. Even though it is dangerous, the children say would rather use it than walk a distance over six kilometers.

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #27 on: June 27, 2014, 03:16:44 PM »

Guwahati : Students using benches to enter their school inundated after heavy rains

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #28 on: July 11, 2014, 07:25:00 AM »

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17226
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
Re: CHALO SCHOOL CHALE HUM
« Reply #29 on: July 12, 2014, 08:26:46 AM »

 

GoogleTagged



Should the staff having very low strength be adjusted to high strength school?

Started by nijjar.bhopal

Replies: 6
Views: 1601
Last post June 20, 2012, 09:02:42 AM
by parminder singh lubana
How many days teaching takes palace in school out of 365 days

Started by EDUCATION

Replies: 6
Views: 1995
Last post September 17, 2012, 10:06:35 PM
by ram
Badal gives nod to set up Teachers Recruitment Board for school teachers selecti

Started by R S Sidhu

Replies: 10
Views: 3629
Last post December 05, 2014, 10:15:26 AM
by Baljit NABHA
"Chandigarh School" Time Changed from 1st November, 2016

Started by SHANDAL

Replies: 3
Views: 661
Last post November 02, 2016, 10:46:02 AM
by Baljit NABHA
Date Sheet Senior Secondary Supplementary Exam (Open School) September-2017

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 180
Last post September 01, 2017, 07:38:33 AM
by sheemar