Author Topic: शिक्षा में सुधार के लिए मास्टर प्लान  (Read 527 times)

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 16986
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email


सरकारी स्कूलों में टीचर कैसे पढ़ाते हैं, इंस्पेक्शन होगी

स्टूडेंट की फर्जी अटेंडेंस लगी तो एफिलिएशन रद्द होगी

सिलेबस की टीचर पहले खुद तैयारी करेगा फिर पढ़ाएगा, शिक्षा विभाग पढ़ाने की ट्रेनिंग भी देगा

अंकित शर्मा | जालंधर
सरकारीस्कूलों में एजुकेशन के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए शिक्षा विभाग की तरफ से मास्टर प्लान तैयार किया गया है। इसमें शिक्षकों द्वारा पढ़ाने का तरीका, ट्रेनिंग की प्रक्रिया से लेकर इंस्पेक्शन को पहल के आधार पर बदलने का प्लान है। अब कोई भी शिक्षक बिना तैयारी कोई सबजेक्ट उसका पाठ्यक्रम नहीं पढ़ाएगा। उन्हें पहले खुद तैयारी करके आना होगा। यही नहीं बच्चों को बताना होगा कि वह कल कौन-सा टॉपिक पढ़ेंगे।
विषयों में बच्चों की उत्सुकता बढ़ाने के लिए उन्हें टॉपिक के बारे में खोजबीन करने को कहें ताकि अगले दिन जब बच्चे आएं तो उनके जहन में भी सवाल हों। चाहे वो होमवर्क के रूप में ही क्यों हो।
शिक्षक फिर टॉपिक के जरिए बच्चों को खुद से कनेक्ट करेंगे। शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार ने इसे लेकर कहा था कि अभी तक या तो शिक्षक खुद केवल किताब से पढ़कर टॉपिक सुना देता था या फिर बच्चे से पढ़वा दिया। अब यह सब बंद करना होगा। बाकायदा टीचर के पढ़ाने की तकनीक की भी इंस्पेक्शन होगी। इंस्पेक्शन टीम में सिलेक्शन अब सिफारिश पर नहीं बल्कि पैनल इंटरव्यू से होगी। उसके बाद प्रोग्राम अनुसार ट्रेनिंग भी होगी। चैकिंग में सैटिस्फेक्शन क्वालिटी प्रोग्राम, जो शिक्षक बेहतर काम करते हैं उनको मोटिवेट करना उन्हें आने वाले प्रॉब्लम्स को भी दूर करवाने में योगदान देना है, ताकि पढ़ाने के लिए स्कूलों में बेहतर वातावरण दिया जा सके।
सुधारके लिए प्राइमरी लेवल में आज देंगे सुझाव :राज्य सरकार की तरफ से सूबे में प्राइमरी शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिए राज्य स्तरीय एक दिवसीय वर्कशाप 21 जुलाई को पंजाब स्कूल एजुकेशन स्कूल शिक्षा बोर्ड के आडिटोरियम में होगी। वर्कशाप में मंडल शिक्षा अधिकारी (सीईओ), जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ), डिप्टी डीईओ, डाइट प्रिंसिपल, ब्लाक प्राइमरी एजुकेशन अफसर (बीपीईओ) और सभी जिलों में तैनात रिसोर्सपर्सन इसमें शामिल होंगे। इसमें डिस्कशन करके प्राइमरी लेवल से ही शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए सुझाव लिए जाएंगे। ताकि मिडिल सेकेंडरी स्तर पर गिरते नतीजों को भी सुधारा जा सके।
शिक्षा विभाग को शिकायतें मिली हैं कि 11वीं 12वीं साइंस ग्रुप के स्टूडेंट्स विभिन्न स्कूलों में दाखिला तो ले लेते हैं, पर एक ही समय ट्यूशन के लिए कोचिंग सेंटर या चंडीगढ़ में रह कर कोचिंग लेते हैं। ऐसे में स्कूल की तरफ से उन स्टूडेंट्स को गलत ढंग से हाजिर दिखाया जाता है। ऐसा करके संस्थाओं की तरफ से एफिलिएशन नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। सरकारी, एडिड, प्राइवेट, एसोसिएट एफिलिएटेड स्कूल मुखी केवल हाजिर स्टूडेंट्स की अटेंडेंस ही देंगे। ऐसे में इंस्पेक्शन या किसी तरह नियमों के विरुद्ध चलने का कोई मामला सामने आया तो कार्रवाई की जाएगी। एफिलिएशन तक रद्द की जा सकती हैं।

Baljit NABHA

  • News Caster
  • *****
  • Offline
  • Posts: 49559
  • Gender: Male
  • Bhatia
    • View Profile

 

GoogleTagged



J&K 25 निजी बीएड कॉलेज बंद

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 201
Last post July 31, 2017, 05:03:36 PM
by sheemar
अब स्टूडेंट्स की अटेंडेंसSMS से

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 867
Last post July 08, 2015, 11:40:47 AM
by sheemar
CBSE:27 तक रि-वेरिफिकेशन/विंडो फिर खोली

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 274
Last post June 23, 2017, 08:01:24 AM
by sheemar
डीईओ ऑफिस, जहां कोई अफसर नहीं आना चाहता

Started by SHANDAL

Replies: 2
Views: 1115
Last post June 29, 2015, 06:34:25 AM
by SHANDAL
9 देशों के टीचर पढ़ाएंगे

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 595
Last post June 08, 2015, 06:32:55 AM
by sheemar