Author Topic: कक्षा में मोबाइल नहीं चलाएंगे शिक्षक  (Read 927 times)

sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17469
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email
कक्षा में मोबाइल नहीं चलाएंगे शिक्षक
कक्षा में मोबाइल पर वाटसएप व फेसबुक चलाई तो शिक्षा सचिव को बता देंगे प्रसिपल1
सख्ती

राजेश भट्टपटियाला 1क्लास रूम में बच्चों को पढ़ाने की बजाय वाट्सएप और फेसबुक चलाना अब मास्टर जी के लिए महंगा पड़ सकता है। शिक्षकों के मोबाइल अब शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार के रडार पर आ गए हैं। मोबाइल चलाने वाले अध्यापकों को पकड़ने के लिए उन्होंने जाल बिछाना शुरू कर दिया है। कृष्ण कुमार ने स्कूल प्रसिपलों को जिम्मेदारी सौंपी है कि वे अपने स्कूल के उन अध्यापकों को पकड़ें जो कक्षाओं में मोबाइल पर फेसबुक और वाट्सएप चलाते हैं। आदेश मिलते ही प्रसिपलों ने भी अपने स्कूलों के शिक्षकों को कह दिया है कि अगर क्लास रूम में मोबाइल चलाया तो वह शिक्षा सचिव को बता देंगे।1दरअसल स्कूलों में विभाग की टीमों द्वारा की जाने वाली छापेमारी में ऐसे कई मामले सामने आए थे जिसमें टीचर क्लास रूम में बच्चों को पढ़ाने के बजाय मोबाइल में व्यस्त दिखे। इससे बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होती है। जांच टीमों की रिपोर्ट पर शिक्षा सचिव ने शिक्षकों के क्लास रूम में मोबाइल के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया। सचिव ने प्रसिपलों को हिदायत दी है कि वे नियमित तौर पर चेक करें कि शिक्षक क्लास में मोबाइल का प्रयोग तो नहीं कर रहे। अगर ऐसा कोई भी मामला सामने आता है तो वह इसकी रिपोर्ट तुरंत डीईओ को दें, ताकि रिपोर्ट उनके दफ्तर तक पहुंच सके।1शिक्षा सुधार के लिए स्कूल प्रसिपलों को गाइडलाइन जारी की गई है। प्रसिपलों को कहा गया है कि शिक्षक क्लासरूम में मोबाइल का प्रयोग न करें। इस पर विशेष ध्यान रखें और मोबाइल चलाते पकड़े जाते हैं तो उसकी रिपोर्ट उसी वक्त जिला शिक्षा अधिकारियों को दें।1कृष्ण कुमार, सचिव, शिक्षा विभाग पंजाबऐसे पकड़े जाएंगे शिक्षक 1प्रिंसिपल अपने दफ्तर में बैठकर अपने मोबाइल से देख सकेंगे कि क्लासरूम में शिक्षक वाट्सएप पर ऑनलाइन हैं या नहीं। इसी तरह फेसबुक पर भी शिक्षकों के ऑनलाइन रहने का पता चल सकता है। इसके अलावा प्रसिपल विद्यार्थियों से भी गुप्त तरीके से फीडबैक लेंगे कि कोई शिक्षक क्लासरूम में मोबाइल का प्रयोग तो नहीं कर रहा है।डीजीएसई रहते हुए भी लिए थे कई फैसले1शिक्षक सचिव कृष्ण कुमार जब डायरेक्टर जनरल स्कूल एजुकेशन थे, उस वक्त भी शिक्षा सुधार व सरकारी स्कूलों का माहौल सुधारने के लिए कई फैसले ले चुके थे। उन्होंने शिक्षकों पर नजर रखने के लिए कक्षाओं में मॉनिटर डायरी शुरू करवाई थी, जिसमें क्लास मॉनिटर को लिखना होता था कि किस टीचर ने आज क्या-क्या पढ़ाया है और उन डायरियों की जांच प्रसिपल को करनी होती थी। यही नहीं, विभाग की जांच टीमें भी सबसे पहले मॉनिटर डायरी को ही देखती थीं। इसके अलावा शिक्षक स्कूल में समय पर आ रहे हैं या नहीं, इस पर भी विशेष नजर रहती थी।



sheemar

  • News Editor
  • *****
  • Offline
  • Posts: 17469
  • Gender: Male
    • View Profile
    • Email

 

अब स्टूडेंट्स की अटेंडेंसSMS से

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 930
Last post July 08, 2015, 11:40:47 AM
by sheemar
बेस्ट स्कूल अवार्ड

Started by sheemar

Replies: 1
Views: 440
Last post July 17, 2017, 09:17:30 AM
by Baljit NABHA
सभी बोर्ड की टैक्स्टबुक एक पोर्टल पर

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 558
Last post June 21, 2015, 09:59:06 AM
by sheemar
J&K 25 निजी बीएड कॉलेज बंद

Started by sheemar

Replies: 0
Views: 260
Last post July 31, 2017, 05:03:36 PM
by sheemar
6060दोबारा तैयार हो मेरिट लिस्ट: HC

Started by sheemar

Replies: 13
Views: 3054
Last post November 17, 2016, 01:17:59 PM
by Babita