Show Posts

This section allows you to view all posts made by this member. Note that you can only see posts made in areas you currently have access to.


Topics - Gaurav Rathore

Pages:  1 2 3 ... 38
1
Teachers News / All transfers list 2017 out
« on: July 15, 2017, 11:17:43 PM »

All transfers lists out, click below link to see all lists

http://ssapunjab.org/subpages/transfer.html


2
Teachers News / Senior Secondary Compartment Exam Result June 2017
« on: July 08, 2017, 08:57:08 PM »

बोर्ड ने घोषित किया जमा-दो की कंपारमेंट की परीक्षा का नतीजा

 July 8, 2017

-स्पेशल चांस में भी पास नहीं हुए 14,437 छात्र

शिक्षा फोक्स, जालंधर।
शिक्षा मंत्री अरूणा चौधरी की तरफ से बच्चों का वर्ष सुरक्षित करने के लिए ली गई जमा-दो कंपारमेंट की 61 विषयों की परीक्षा का नतीजा बोर्ड ने 8 जून को घोषित कर दिया है। पंजाब बोर्ड ने शिक्षा मंत्री के अादेश पर उन छात्रों को स्पेशल चांस दिया था, जिनकी एक विषय में कंपारमेंट थी। इस परीक्षा का नतीजा 73.56 रहा है, जो पिछले दो वर्षों की पास प्रतिश्तता के मुकाबले अधिक है। शिक्षा मंत्री अरूणा चौधरी तथा स्कूल शिक्षा विभाग व बोर्ड के संयुक्त प्रयास के बाद 23 जून को ली गई जमा-दो की परीक्षा में 54,606 छात्र बैठे थे। इनमें से 40169 छात्र कंपारमेंट की परीक्षा को पास कर पाए हैं जबकि 14437 छात्र इस परीक्षा में भी फेल हो गए हैं।
बोर्ड के मुताबिक जो बच्चे इस परीक्षा में पास नहीं हुए हैं वे फरवरी/मार्च 2018 की परीक्षा देने के योग्य होंगे। बोर्ड के प्रवक्ता के मुताबिक इस बार जो पास प्रतिश्तता रही है वह जुलाई 2015 की 64.42 तथा जुलाई 2016 की 52.34 के मुकाबले अधिक है। साल खराब होने से बचाने के लिए जिन छात्रों ने यह परीक्षा दी थी, वह बोर्ड की वेबसाइट पर नतीजा देखा जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त www.pseb.ac.in पर भी 9 जुलाई को सुबह 11 बजे नतीजा देखा जा सकता है। बोर्ड के मुताबिक जिन छात्रों की इस परीक्षा में कंपारमेंट अाई है, उन्हें अागे मौका देने के लिए तिथि घोषित की जाएगी।

3

जब मर्जी होगी तभी फलैश करेंगे तबादलों की लिस्ट-डीपीआई
 July 8, 2017
-*जिला स्तर पर तबादलों का काम पूरा*
शिक्षा फोक्स, जालंधर।
लंबे समय तबादलों की लिस्ट का इंतजार कर रहे अध्यापकों के लिए बुरी खबर है। शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार तो पहले ही कह चुके हैं कि उन्हें इस संबंधी कुछ नहीं पता, वे फाइल देख कर ही कुछ कह सकते हैं। मगर, नव नियुक्त डीपीअाई सेकेंडरी परमजीत सिंह ने तो हैरानी भरा जवाब दिया है। उनका कहना है कि जब मर्जी होगी तब तबादलों की लिस्ट जारी करेंगे।
जब शिक्षा फोक्स की तरफ से उन्हें फोन पर अध्यापकों के तबादलों की लिस्ट के बारे में पूछा गया तो उन्होंने पहले तो कहा कि अभी लिस्ट जारी करने की कोई प्लानिंग नहीं है। मगर, जब उनसे पूछा गया कि अध्यापक तबादलों की लिस्ट का बेसबरी से इंतजार कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि जब विभाग की मर्जी होगी तभी तबादलों की लिस्ट जारी होगी। जब उनसे पूछा गया कि क्या सरकार ने अभी तबादला लिस्ट को जारी करने से रोकने के अार्डर दिए हैं तो उन्होंने इस बारे में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।
उधर, जानकारों के मुताबिक शिक्षा विभाग ने जिला शिक्षा अधिकारियों (डीईअो) को तबादलों की लिस्टें तैयार कर रखने के लिए कहा है। शुक्रवार को राज्य के अधिकांश जिलों में डीईअो ने एकांत में बैठकर लिस्टें तैयार कर ली हैं। हां, लिस्टें अभी रिलीज नहीं होंगी। उन्हें (डीईअो) मोखिक अादेश मिले हैं कि जब तक हेड अाफिस से हरी झंडी नहीं अाती लिस्टें बाहर नहीं जानी चाहिए। पता चला है कि जो लिस्टें तैयार की गई हैं उन पर पहले समूह विधायकों से प्रवानगी ली जाएगी। यही नहीं जिला शिक्षा अधिकारियों को हिदायत की गई है कि अगर लिस्टें लीक (बाहर) अाई तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।



4
Teachers News / Punjab Budget 2017-18
« on: June 20, 2017, 12:44:57 PM »


ਖਜ਼ਾਨਾ ਮੰਤਰੀ ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਬਾਦਲ ਵੱਲੋਂ ਪੇਸ਼ 12017-18 ਦਾ ਕੁੱਲ ਬਜਟ 1,18,237.90 ਕਰੋੜ ਦਾ ਹੈ। ਵਿੱਤੀ ਘਾਟਾ 14,784.87 ਕਰੋੜ ਹੈ।

ਕਿਸਾਨਾਂ ਦੀ ਕਰਜ਼ ਮੁਕਤੀ ਲਈ ਬਜਟ ਵਿੱਚ 1500 ਕਰੋੜ ਰੁਪਈਆ ਰੱਖਿਆ ਗਿਆ।

ਸਾਲ ਦੀ ਕੁੱਲ ਆਮਦਨੀ 105514.84 ਕਰੋੜ ਰੁਪਏ ਹੋਣ ਦੀ ਸੰਭਾਵਨਾ ਹੈ।

ਬਜਟ ਵਿੱਚ ਲੋਕਾਂ ਤੇ ਕੋਈ ਨਵਾਂ ਬੋਝ ਨਹੀਂ। ਸਰਕਾਰ ਨੇ ਕੋਈ ਨਵਾਂ ਟੈਕਸ ਨਹੀਂ ਲਾਇਆ।

ਪੜ੍ਹੋ ਪੰਜਾਬ ਤੇ ਪੜ੍ਹਾਓ ਪੰਜਾਬ ਮੁਹਿੰਮ ਤਹਿਤ ਪ੍ਰਵਾਸੀਆਂ ਨੂੰ ਸਿੱਖਿਆ ਵਿੱਚ ਪੈਸੇ ਲਾਉਣ ਲਈ ਪ੍ਰੇਰਿਤ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ।

ਸਰਕਾਰੀ ਪ੍ਰਾਇਮਰੀ ਸਕੂਲਾਂ ਵਿੱਚ ਕੰਪਿਊਟਰਾਂ ਲਈ 10 ਕਰੋੜ ਰੁਪਏ ਰੱਖੇ।

ਸਾਰੇ ਪ੍ਰਾਇਮਰੀ ਸਕੂਲਾਂ ਵਿੱਚ ਗ੍ਰੀਨ ਬੋਰਡ ਲੱਗਣਗੇ।

ਪੰਜਾਬ ਯੂਨੀਵਰਸਿਟੀ ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ ਨੂੰ ਗਰਾਂਟ 26 ਕਰੋੜ ਤੋਂ ਵਧਾ ਕੇ 33 ਕਰੋੜ ਕੀਤੀ।

ਪੱਛੜੇ ਖੇਤਰਾਂ ਵਿੱਚ 5 ਨਵੇਂ ਡਿਗਰੀ ਕਾਲਜ ਖੋਲ੍ਹੇ ਜਾਣਗੇ।

ਮਲੇਰਕੋਟਲਾ ਦੀ ਉਰਦੂ ਅਕੈਡਮੀ ਲਈ 3 ਕਰੋੜ ਦੇਣ ਦਾ ਪ੍ਰਸਤਾਵ।

ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ ਸਮਾਰਟਫੋਨ ਦੇਣ ਲਈ ਬਜਟ ਵਿੱਚ 10 ਕਰੋੜ ਰੁਪਏ ਰੱਖੇ। ਕਾਂਗਰਸ ਨੇ ਮੈਨੀਫੈਸਟੋ ਵਿੱਚ ਵਾਅਦਾ ਕੀਤਾ ਸੀ।

ਆਪਣੀ ਗੱਡੀ ਆਪਣਾ ਰੁਜ਼ਗਾਰ ਸਕੀਮ ਸ਼ੁਰੂ। ਓਲਾ ਤੇ ਉਬਰ ਜ਼ਰੀਏ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ 5 ਸਾਲ ਵਿੱਚ 3 ਲੱਖ ਨੌਕਰੀਆਂ ਦੀ ਤਜ਼ਵੀਜ।

ਹਰਾ ਟਰੈਕਟਰ ਸਕੀਮ: 25000 ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ ਖੇਤੀਬਾੜੀ ਉਪਕਰਨਾਂ ਸਹਿਤ ਇੱਕ ਟਰੈਕਟਰ ਦੇਣ ਦਾ ਦਾਅਵਾ।

ਸ਼ਹੀਦ ਭਗਤ ਸਿੰਘ ਰੁਜ਼ਗਾਰ ਸਿਰਜਣ ਯੋਜਨਾ: ਇਸ ਤਹਿਤ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ ਸਸਤੇ ਵਿਆਜ਼ ਤੇ ਲੋਨ ਦੇਣ ਦਾ ਫੈਸਲਾ।

ਇੱਕ ਸਾਲ ਵਿੱਚ ਐਸਸੀ ਤੇ ਬੀਸੀ ਪਰਿਵਾਰਾਂ ਲਈ ਮੁਫ਼ਤ 2000 ਮਕਾਨਾਂ ਦੀ ਉਸਾਰੀ ਕੀਤੀ ਜਾਵੇਗੀ।

ਝੋਨੇ ਦੀ ਪਰਾਲੀ ਨੂੰ ਜਲਾਉਣ ਤੋਂ ਰੁਕਵਾਉਣ ਲਈ ਸਰਕਾਰ ਨਵੀਆਂ ਸਕੀਮਾਂ ਦੀ ਸ਼ੁਰੂਆਤ ਹੋਵੇਗੀ।

5

पंजाब के अंग्रेजी अध्यापकों को पढ़ाएगी अमेरिकन फाऊंडेशन
-एक बार फिर लगेगी अंग्रेजी अध्यापकों की क्लास
-अंतर सिर्फ इतना अध्यापकों की क्लास लेने वाले मंत्री बदले
शिक्षा फोक्स, जालंधरः
पंजाब के सरकारी स्कूलों में बच्चों को अंग्रेजी की शिक्षा देने वाले अध्यापकों को एक बार पुनः अंग्रेजी का टेस्ट देना होगा। मास्टर जी का यह टेस्ट अमेरिकन इंडिया फाऊंडेशन ट्रस्ट लेगा। शिक्षा विभाग ने इस क्लास को इंग्लिश हैल्पर का नाम दिया है। इस प्रोजेक्ट में 10 जिलों के 500 अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों व अध्यापकों को अंग्रेजी पढ़ाई जाएगी। डायरैक्टर जनरल अॉफ स्कूल एजुकेशन पंजाब प्रदीप कुमार ने इस प्रोजेक्ट की पुष्टि की है। जानकारों की मानें तो अध्यापकों व बच्चों को अंग्रेजी में माहिर बनाने की जरूरत इस बार के अाए नतीजों के कारण पड़ी है। इस बार दसवीं के नतीजों में अंग्रेजी का नतीजा कुछ खास नहीं रहा है। बोर्ड के नतीजों के मुताबिक 78.68 प्रतिश्त रहा है। जबकि सबसे ऊपर पंजाबी का नतीजा 93.35 प्रतिश्त रहा है।
गौर हो कि अकाली-भाजपा के शासनकाल के दौरान भी अंग्रेजी मास्टरों का टेस्ट हो चुका है। यह टेस्ट तत्कालीन शित्रा मंत्री डा. दलजीत सिंह चीमा ने लिया था। टेस्ट में सभी अध्यापक फेल हुए थे। अब एक बार पुनः अंग्रेजी अध्यापकों के लिए परीक्षा की घड़ी है। अंतर सिर्फ इतना है कि इस बार मास्टर जी की परीक्षा लेने वाले मंत्री बदल चुके हैं।
पता चला है कि फाऊंडेशन ने अंग्रेजी पढ़ाने वाले शिक्षकों की अध्यापन कुशलता बढ़ाने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया है। डीजीएसई प्रदीप कुमार के मुताबिक राज्य सरकार ने इस नए प्रोग्राम का नाम इंग्लिश हैल्पर रखा है, जिससे विद्यार्थियों को अंग्रेजी में माहिर बनाने के लिए कोर्स शुरु होगा, जो शिक्षकों पर भी लागू होगा। इंग्लिश हैल्पर प्रोग्राम के लिए संबंधित जिलों के जिला शिक्षा अधिकारियों (सैकेंडरी) को पत्र लिखकर प्रोग्राम लागू करने के लिए कहा गया है।

शिक्षा विभाग के पास नहीं हैं पूरे अंग्रेजी के अध्यापक
जानकारी के मुताबिक इस समय शिक्षा विभाग में अंग्रेजी के मास्टर जी की भारी कमी है। हालात एेसे हैं कि सरकार को अंग्रेजी में निपुन अध्यापक मिल भी नहीं रहे हैं। इस समय स्कूलों में पढ़ाने वाले बच्चों को अंग्रेजी का विषय एसएसटी मास्टर पढ़ा रहे हैं। यही नहीं प्रत्येक साल अंग्रेजी में एसएसटी मास्टरों से डंग टपा रहे शिक्षा विभाग को तंग करना नहीं भूलता। एसएसटी अध्यापकों की एसीअार में अंग्रेजी विषय का नतीजा भी जोड़ा जाता है, जिससे एसएसटी अध्यापक खफा हैं।

6

स्कूलों में छात्रों की कमी से गायब होने लगे पक्के सरकारी अध्यापक
-उत्तराखंड सरकार ने 2700 पदों को किया समाप्त
शिक्षा फोक्स, देहरादून
उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों में अध्यापकों की कमी का नुकसान पक्की नौकरी की अास रखने वाले अध्यापकों को होने जा रहा है। इसी काऱण सरकार ने स्कूलों में टीचरो के पक्के पदों को न भर कंट्रेक्ट सिस्टम को अपनाने का अादेश जारी कर दिया है। उत्तराखंड में टीचरों के पद लगातार समाप्त किए जा रहे हैं। माध्यमिक शिक्षा विभाग में सहायक अध्यापक एवं प्रवक्ताओं के 31059 पद स्वीकृत हैं, इनमें से 2700 पदों को पहले ही समाप्त किया जा चुके हैं। जबकि अब बेसिक शिक्षा के चार हजार से अधिक पदों को भी समाप्त करने की तैयारी चल रही है।
इसकी वजह स्कूलों में तेजी से घटती छात्र संख्या को बताया जा रहा है। बताया गया है कि 265 स्कूलों में एक भी छात्र नहीं है। वहीं बड़ी संख्या में ऐसे स्कूल भी हैं, जिनमें छात्रों की संख्या दस या इससे भी कम रह गई है। छात्रों की घटती संख्या के चलते धीरे-धीरे विभाग में टीचरों के पदों को समाप्त कर भविष्य में होने वाली नियुक्तियां फिक्स वेतन पर कांट्रेक्ट के आधार पर करने की तैयारी हो चुकी है।विभागीय मंत्री अरविंद पांडे की ओर से अधिकारियों को इसके निर्देश भी दिए जा चुके हैं।


7
Teachers News / Pb cabinet meeting decision 7 June
« on: June 07, 2017, 08:37:00 PM »


ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ: ਪੰਜਾਬ ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਪੈਨਸ਼ਨ ਤੇ ਸਮਾਜਿਕ ਸੁਰੱਖਿਆ ਦੀਆਂ ਹੋਰ ਸਕੀਮਾਂ ਦਾ ਲਾਭ ਲੈਣ ਲਈ ਯੋਗਤਾ ਵਾਸਤੇ ਸਾਲਾਨਾ ਆਮਦਨ ਦੀ ਸੀਮਾ 60,000 ਰੁਪਏ ਤੱਕ ਵਧਾ ਦਿੱਤੀ ਹੈ। ਇਸ ਦੇ ਨਾਲ ਹੀ ਸਵੈ-ਘੋਸ਼ਣਾ ਕਰਨ ਦੀ ਪ੍ਰਣਾਲੀ ਲਾਗੂ ਕਰਕੇ ਲਾਭ ਪ੍ਰਾਪਤ ਕਰਨ ਵਿੱਚ ਪੇਸ਼ ਆਉਂਦੀਆਂ ਮੁਸ਼ਕਲਾਂ ਨੂੰ ਘੱਟ ਤੋਂ ਘੱਟ ਕਰਨ ਦਾ ਫੈਸਲਾ ਕੀਤਾ ਹੈ। ਸਰਕਾਰ ਮੁਤਾਬਕ ਅਯੋਗ ਲਾਭਪਾਤਰੀਆਂ ਨੂੰ ਬਾਹਰ ਕੱਢਣ ਵਾਸਤੇ ਚੱਲ ਰਹੀ ਜਾਂਚ ਪ੍ਰਕਿਰਿਆ ਕਾਰਨ ਆਮਦਨ ਦੀ ਸੀਮਾ ਵਧਾਉਣ ਨਾਲ ਸਰਕਾਰੀ ਖਜ਼ਾਨੇ ਤੇ ਕੋਈ ਵੀ ਵਾਧੂ ਬੋਝ ਨਹੀਂ ਪਵੇਗਾ।ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਸੂਬੇ ਵਿੱਚ ਰੀਅਲ ਅਸਟੇਟ ਰੈਗੂਲੇਟਰੀ ਅਥਾਰਟੀ (ਰੇਰਾ) ਨੂੰ ਲਾਗੂ ਕਰਨ ਲਈ ਖਰੜਾ ਨੋਟੀਫਿਕੇਸ਼ਨ ਨੂੰ ਵੀ ਪ੍ਰਵਾਨਗੀ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਹੈ। ਇਸ ਦੇ ਨਾਲ ਹੀ ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰੀਸ਼ਦਾਂ ਵਿੱਚ ਸਬਸਿਡਰੀ ਸਿਹਤ ਕੇਂਦਰਾਂ ਵਿੱਚ ਕੰਮ ਕਰ ਰਹੇ ਠੇਕੇ ਅਧਾਰਤ ਫਾਰਮਾਸਿਸਟਾਂ ਤੇ ਦਰਜਾ ਚਾਰ ਮੁਲਾਜ਼ਮਾਂ ਦੀ ਉਜਰਤ ਵਿੱਚ ਵਾਧਾ ਕਰਨ ਦੇ ਨਾਲ-ਨਾਲ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀਆਂ ਸੇਵਾਵਾਂ ਵਿੱਚ ਵਾਧਾ ਕਰਨ ਦੀ ਸਹਿਮਤੀ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਹੈ।ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਦੀ ਪ੍ਰਧਾਨਗੀਹੇਠ ਹੋਈ ਮੀਟਿੰਗ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਦੇ ਫੈਸਲਿਆਂ ਦੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਦਿੰਦੇ ਹੋਏ ਸਰਕਾਰੀ ਬੁਲਾਰੇ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਆਟਾ-ਦਾਲ ਸਕੀਮ ਸਣੇ ਸਮਾਜਿਕਸੁਰੱਖਿਆ ਹੇਠ ਪ੍ਰਾਪਤ ਹੋਣ ਵਾਲੇ ਲਾਭਾਂ ਵਾਸਤੇ ਆਮਦਨ ਦੇ ਮਾਪਦੰਡਾਂ ਨੂੰ ਮੁੜ ਤੈਅ ਕਰਨ ਦਾ ਫੈਸਲਾ ਲਿਆ ਹੈ। ਇਸ ਅਨੁਸਾਰ ਆਮਦਨ ਦੀ ਇਹ ਸੀਮਾ ਇੱਕ ਵਿਅਕਤੀ ਲਈ ਮੌਜੂਦਾ 24,000 ਰੁਪਏ ਤੇ ਪਤੀ-ਪਤਨੀ ਲਈ 30,000 ਰੁਪਏ ਤੋ ਵਧਾ ਕੇ 60,000 ਰੁਪਏ ਕਰ ਦਿੱਤੀ ਹੈ।ਇਸ ਦੌਰਾਨ ਸ਼ਹਿਰੀ ਇਲਾਕਿਆਂ ਵਿੱਚ ਚੱਲ ਰਹੇ ਅਮਲ ਦੀਤਰ੍ਹਾਂ ਦਿਹਾਤੀ ਇਲਾਕਿਆਂ ਵਿੱਚ ਵੀ ਲਾਭਪਾਤਰੀਆਂ ਨੂੰ ਬੁਢਾਪਾ ਪੈਨਸ਼ਨ ਤੇ ਹੋਰ ਸਮਾਜਿਕ ਸੁਰੱਖਿਆ ਸਕੀਮਾਂ ਦੇ ਹੇਠ ਭੁਗਤਾਨ ਸਿੱਧਾ ਬੈਂਕ ਖਾਤਿਆਂ ਰਾਹੀਂ ਕਰਨ ਦਾ ਵੀ ਫੈਸਲਾ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਹੈ। ਇਸ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਦਿਹਾਤੀ ਇਲਾਕਿਆਂ ਵਿੱਚ ਇਨ੍ਹਾਂ ਲਾਭਾਂ ਦਾ ਭੁਗਤਾਨ ਪੰਚਾਇਤਾਂ ਰਾਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾਂਦਾ ਸੀ। ਇਸ ਕਾਰਨ ਦਿਹਾਤੀ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਬਹੁਤ ਸਾਰੀਆਂ ਸਮੱਸਿਆਵਾਂ ਦਾ ਸਾਹਮਣਾ ਕਰਨਾ ਪੈਂਦਾ ਸੀ।ਨਵੇਂ ਨਿਯਮਾਂ ਮੁਤਾਬਕ ਅਰਜ਼ੀਕਰਤਾ ਸਰਕਾਰੀ ਜਾਂ ਪ੍ਰਾਈਵੇਟ ਨੌਕਰੀ ਨਹੀਂ ਕਰਦਾ ਹੋਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਤੇ ਵਿਆਜ/ਕਿਰਾਏ ਦੀ ਆਮਦਨ ਸਮੇਤ ਹੋਰ ਕਿਸੇ ਵੀ ਸਰੋਤ ਤੋਂ 60 ਹਜ਼ਾਰ ਰੁਪਏ ਤੋਂ ਵੱਧ ਦੀ ਸਾਲਾਨਾ ਆਮਦਨ ਨਹੀਂ ਹੋਣੀ ਚਾਹੀਦੀ। ਇਸੇ ਤਰ੍ਹਾਂ ਅਰਜ਼ੀਕਰਤਾ ਨੂੰਸਵੈ-ਘੋਸ਼ਣਾ ਪੱਤਰ ਦੇਣਾ ਹੋਵੇਗਾ ਕਿ ਪੁਰਸ਼/ਮਹਿਲਾ (ਪਤੀ-ਪਤਨੀ ਸਮੇਤ) ਕੋਲ ਨਹਿਰੀ/ਚਾਹੀ 2.5 ਏਕੜ ਤੋਂ ਵੱਧ, ਬਰਾਨੀ ਪੰਜ ਏਕੜ ਤੇ ਸੇਮ ਪ੍ਰਭਾਵਿਤ ਖੇਤਰ ਵਿੱਚ ਪੰਜ ਏਕੜ ਤੋਂ ਵੱਧ ਜ਼ਮੀਨ ਨਹੀਂ ਹੈ।ਪਹਿਲੀ ਪ੍ਰਥਾ ਦੇ ਉਲਟ ਹੁਣ ਪੇਂਡੂ ਤੇ ਸ਼ਹਿਰੀ ਖੇਤਰਾਂ ਵਿੱਚ ਪੈਨਸ਼ਨ ਮਨਜ਼ੂਰ ਕਰਨ ਦੇ ਅਧਿਕਾਰ ਕ੍ਰਮਵਾਰ ਬਾਲ ਵਿਕਾਸ ਪ੍ਰੋਜੈਕਟ ਅਫਸਰਾਂ (ਸੀ.ਡੀ.ਪੀ.ਓ.) ਤੇ ਕਾਰਜ ਸਾਧਕ ਅਫਸਰ, ਨਗਰ ਕੌਂਸਲ/ਸਕੱਤਰ, ਨਗਰ ਨਿਗਮ ਨੂੰ ਦਿੱਤੇ ਗਏ ਹਨ ਜੋ ਅਰਜ਼ੀ ਫਾਰਮ ਪ੍ਰਵਾਨ ਕਰਨ ਲਈ ਜ਼ਿੰਮੇਵਾਰ ਹੋਣਗੇ। ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪੱਧਰ ਤੇ ਪੈਨਸ਼ਨ ਪ੍ਰਵਾਨ ਲਈ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਸਮਾਜਿਕ ਸੁਰੱਖਿਆ ਅਧਿਕਾਰੀ ਸਮਰੱਥ ਅਥਾਰਟੀ ਹੋਵੇਗਾ ਤਾਂ ਜੋ ਪੈਨਸ਼ਨ ਦੇ ਕੇਸਾਂ ਵਿੱਚ ਕਿਸੇ ਕਿਸਮ ਦੀ ਗੜਬੜੀ ਨਾ ਹੋਵੇ। ਇਸ ਸਕੀਮ ਦੀ ਨਿਗਰਾਨੀ ਤੇ ਜਵਾਬਦੇਹੀ ਦਾ ਕੰਮ ਵੀ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪੱਧਰ ਤੇ ਹੋਵੇਗਾ।ਰੇਰਾ ਬਾਰੇ ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਦਾ ਮੰਨਣਾ ਹੈ ਕਿ ਸਾਰੇ ਭਾਈਵਾਲਾਂ ਦੇ ਸਲਾਹ-ਮਸ਼ਵਰੇ ਤੇ ਸੁਝਾਵਾਂ ਤੇ ਚਿੰਤਾਵਾਂ ਨੂੰ ਵਿਚਾਰ ਕੇ ਤਿਆਰ ਕੀਤੇ ਖਰੜੇ ਨਾਲ ਸੂਬੇ ਵਿੱਚ ਰੀਅਲ ਅਸਟੇਟ ਰੈਗੂਲੇਟਰੀ ਅਥਾਰਟੀ ਤੇ ਰੀਅਲ ਅਸਟੇਟ ਐਪੀਲੇਟ ਟ੍ਰਿਬਿਊਨਲ ਦੇ ਗਠਨ ਲਈ ਰਾਹ ਪੱਧਰਾ ਹੋਵੇਗਾ। ਇਸ ਨਾਲ ਪਲਾਟ ਤੇ ਇਮਾਰਤਾਂ ਆਦਿ ਦੀ ਵਿਕਰੀ ਪਾਰਦਰਸ਼ੀ ਤੇ ਪ੍ਰਭਾਵੀ ਢੰਗ ਨਾਲ ਕਰਨ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਤ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕੇਗਾ। ਇਸ ਨਾਲ ਰੀਅਲ ਅਸਟੇਟ ਸੈਕਟਰ ਵਿੱਚ ਖਪਤਕਾਰਾਂ ਦੇ ਹਿੱਤ ਸੁਰੱਖਿਅਤ ਹੋਣ ਦੇ ਨਾਲ-ਨਾਲ ਇਸ ਸੈਕਟਰ ਨਾਲ ਸਬੰਧਤਵਿਵਾਦਾਂ ਨੂੰ ਵੀ ਸਹੀ ਢੰਗ ਨਾਲ ਨਿਪਟਾਇਆ ਜਾ ਸਕੇਗਾ।ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਪੇਂਡੂ ਵਿਕਾਸ ਤੇ ਪੰਚਾਇਤ ਵਿਭਾਗ ਵਿੱਚ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰੀਸ਼ਦਾਂ ਅਧੀਨ 1186 ਸਬਸਿਡਰੀ ਸਿਹਤ ਕੇਂਦਰਾਂ ਵਿੱਚ ਠੇਕੇ ਤੇ ਸਰਵਿਸ ਪ੍ਰੋਵਾਈਡਰਾਂ ਵਜੋਂ ਕੰਮ ਕਰ ਰਹੇ ਫਾਰਮਾਸਿਸਟਾਂ ਤੇ ਦਰਜਾ ਚਾਰ ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਦੇ ਠੇਕਾ ਅਧਾਰਤ ਸੇਵਾਕਾਲ ਵਿੱਚ ਕੰਮ ਚਲਾਊ ਵਿਵਸਥਾ ਅਧੀਨ ਇੱਕ ਅਪ੍ਰੈਲ 2017 ਤੋਂ 31 ਮਾਰਚ 2018 ਤੱਕ ਜਾਂ ਰੈਗੂਲਰ ਭਰਤੀ ਹੋਣ ਤੱਕ ਜੋ ਵੀ ਪਹਿਲਾਂ ਹੋਵੇ, ਵਿੱਚ ਵਾਧਾ ਕਰਨ ਦੀ ਪ੍ਰਵਾਨਗੀ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਹੈ। ਫਾਰਮਾਸਿਸਟਾਂ ਤੇ ਦਰਜਾ ਚਾਰ ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਦੀ ਮੌਜੂਦਾ ਤਨਖਾਹ ਕ੍ਰਮਵਾਰ 7,000 ਰੁਪਏ ਤੋਂ ਵਧਾ ਕੇ 8,000 ਰੁਪਏ ਤੇ 3,000 ਰੁਪਏ ਤੋਂ ਵਧਾ ਕੇ 4,000 ਰੁਪਏ ਪ੍ਰਤੀ ਮਹੀਨਾ ਕਰਨ ਦੀ ਵੀ ਪ੍ਰਵਾਨਗੀ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਹੈ।ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਸਮਰੱਥ ਅਥਾਰਟੀਆਂ ਦੇ ਚੇਅਰਮੈਨਾਂ ਤੇ ਮੈਂਬਰਾਂ ਦੀ ਤਨਖਾਹ ਨਾਲ ਸਬੰਧਤ ਨਿਯਮਾਂ ਬਾਰੇ ਵਿੱਤ ਵਿਭਾਗ ਨਾਲ ਸਲਾਹ ਨਾਲ ਅੰਤਮ ਫੈਸਲਾ ਲੈਣ ਦੇ ਅਧਿਕਾਰ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੂੰ ਦੇ ਦਿੱਤੇ ਹਨ। ਮੰਤਰੀ ਮੰਡਲ ਨੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਦੇ ਸਿਆਸੀ ਸਕੱਤਰਾਂ ਅਤੇ ਵੀ.ਵੀ.ਆਈ.ਪੀ. ਮੈਡੀਕਲ ਟੀਮ ਦੇ ਸੀਨੀਅਰ ਸਲਾਹਕਾਰ ਡਾ. ਵਿਜੇ ਹਰਜਾਈ ਦੀਆਂ ਸ਼ਰਤਾਂ ਤੇ ਬਾਨਾਂ ਨੂੰ ਵੀ ਪ੍ਰਵਾਨਗੀ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਹੈ।

8

मुख्यमंत्री छात्रवृत्ति योजना' योजना से होगी फ़ीस माफ़
-10वीं श्रेणी में 90 से 100 फ़ीसदी अँक लेने पर तकनीकी शिक्षा की पूरी फ़ीस होगी माफ़
-पंजाब के होनहार विद्यार्थियों को मिलेगी लगभग निशुल्क तकनीकी शिक्षा

शिक्षा फोकस, चंडीगढ़
पंजाब के होनहार विद्यार्थियों को सस्ती एवं गुणात्मक तकनीकी शिक्षा मुहैया करवाने के लिये 'मुख्यमंत्री छात्रवृत्ति योजना' आरंभ की गई है। इस स्कीम का लाभ राज्य के सभी सरकारी पॉलीटेक्निक इंजीनियरिंग, महाराजा रणजीत सिंह विश्वविद्यालय और पीटीयू के विद्यार्र्थियों को मिलेगा। स्कीम को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा स्वीकृति मिलने के पश्चात मंगलवार को इसकी औपचारिक शुरूआत वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल और तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने की। तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने इस योजना के लागू होने पर जानकारी देते हुये बताया कि इस स्कीम के अधीन पंजाब के नौजवानों की 10वीं श्रेणी में प्राप्त किये अंकों की प्रतिशतता के मुताबिक फीस माफ की जायेगी। उन्होंने बताया कि 60 से 70 प्रतिशत अंकों वाले विद्यार्थियों की 70 प्रतिशत फीस माफ होगी, 70 से 80 प्रतिशत वालों की 80 प्रतिशत, 80 से 90 प्रतिशत और 90 से 100 प्रतिशत अंक हासिल करने वालों की पूरी फीस माफ होगी। उन्होंने आगे बताया कि इससे पूर्व सरकारी और निजी कालेजों की फीस लगभग बराबर ही थी, परंतु अब इस स्कीम के लागू होने से राज्य के गरीब और होनहार विद्यार्थियों को लगभग निशुल्क तकनीकी शिक्षा हासिल करने के अवसर मिलेंगे। इस स्कीम का लाभ पंजाब के नागरिकों को ही मिलेगा जिनके पास पंजाब का डोमीसाइल होगा। चन्नी ने बताया कि इस स्कीम को लागू करके राज्य के गरीब और जरूरतमंद होनहार स्टूडेंट्स को गुणात्मक सस्ती तकनीकी शिक्षा मुहैया करवाने के लिये कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा वायदा पूरा किया गया है। उन्होंने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार ने आते ही सरकारी पॉलीटेक्निक कालेजों तथा इंजीनियरिंग कालेजों में अध्यापकों की भर्ती का केस तैयार कर लिया है और पंजाब लोक सेवा आयोग द्वारा बहुत शीघ्र भर्ती करके इन कालेजों में अध्यापकों की कमी को पूरा किया जायेगा। उन्होंने बताया कि बढिय़ा अध्यापक भर्ती करने के लिये पी एच डी योग्यता अनिवार्य कर दी गई है।

9
Teachers News / Regarding MPhil Phd Programme through Distance Mode
« on: June 01, 2017, 12:42:01 PM »

Regarding MPhil Phd Programme through Distance Mode


10
Teachers News / Punjab Extends Last Date For General Transfers
« on: May 31, 2017, 04:24:59 PM »
Babushahi.com alert : Punjab Extends Last Date For General Transfers
Punjab Extends Last Date For General Transfers
Chandigarh, May 31, 2017: Punjab Government has extended the last date of general transfers from May 31 to June 30, 2017except three departments.
This order will not be applicable to the department of Irrigation, Power and Local Bodies means the last date of 31st May will remains the deadline for transfers in these departments .


Pages:  1 2 3 ... 38